बोलती कहानियां: आटे सने हाथ

अनीता ज़मीन से जुड़े मुद्दों की कहानियां सीधे फ़ील्ड के बारास्ते हमारे लिए लेकर आती हैं. ये कहानियां निरंतर संस्था द्वारा प्रकाशित पत्रिका ‘आपका पिटारा’ में प्रकाशित हुई हैं. इन्हें संस्था से जुड़े फील्ड वर्कशॉप्स में सुनाया गया है और काफी पसंद भी किया गया है. इन कहानियों को ऑडियों में प्रस्तुत करने की प्रक्रिया में पहले इन्हें हमारी सहयोगी संस्थाओं की महिलाओं के साथ चर्चा कर, कहानी पर उनकी प्रतिक्रियों को जानने एवं समझने का प्रयास किया जाता है. ये चर्चाएं कभी गहरी, कभी रोचक और कभी चौका देने वाली होती हैं. कहानी ख़त्म होने के बाद, आडियों में आगे आप चर्चा से निकली रोचक बातों को सुन सकते हैं.

इस ऑडियो प्रस्तुति के तीसरे एपिसोड में आइए सुनते हैं कहानी – आटे सने हाथ.

शिक्षा का अधिकार सबको है मगर एक लड़की को अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए क्या-क्या मुश्किलें झेलनी पड़ सकती हैं? आइए मिलकर इस कहानी के ज़रिए जानते हैं.

सादिया सईद द थर्ड आई में टेकनिकल हेड और संपादकीय संयोजक हैं.
Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email
Share on print

यह भी सुनें

Skip to content