काम या आराम: गैस पर देख लेना

काम या आराम? क्या ये सवाल जेंडर आधारित है?

मलयालम फिल्म #TheGreatIndianKitchen आजकल बहुत पसंद की जा रही है. हमने जब इसे देखा तो लगा कि क्यों न हम भी आपके साथ रसोई का एक चक्कर लगा ही लें. तो आइए सुनें हमारी रसोई से ताज़ा ताज़ा बनकर निकली ये कहानी.

साल है 2020. मां और बेटी लॉकडाउन के दौरान एक बार फिर मिल रही हैं. चूल्हे पर रखे दूध में बार-बार उबाल आ रहा है. रसोई का माहौल थोड़ा गर्म, थोड़ा नर्म है और यादों की जैसे झड़ी सी लग गई है.

मां और बेटी लॉकडाउन के दौरान एक बार फिर मिल रही हैं. रसोई एक ऐसी जगह बन गई है जहां वे एक दूसरे को ऐसे देख पा रही हैं जैसे पहली बार देख रही हों.

बाकी घर में सब वैसा ही चल रहा है, जैसा हमेशा चलता है.

आइए द थर्ड आई के ‘काम’ पर इस संस्करण में सुनें ‘काम या आराम: गैस पर देख लेना’ एपिसोड. जो एक दस्तावेज़ भी है और वृत्तांत भी.

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email
Share on print

यह भी सुनें

Skip to content