फ़िल्मी शहर – छोटा शहर

शहर और सिनेमा विषय पर फ़िल्म निर्देशक अविजित मुकुल किशोर के साथ ऑनलाइन मास्टरक्लास, एपिसोड 01

चर्चित फ़िल्मकार अविजित मुकुल किशोर की फ़िल्में बदलते शहर, कस्बे और उनमें रहने वाले लोगों और जगहों की बात करती हैं. अपने कैमरे के ज़रिए वे यहां होने वाले बदलाव को बहुत ही ख़ूबसूरती से क़ैद करते हैं. ‘फ़िल्मी शहर’ ऑनलाइन मास्टरक्लास में हम अविजित मुकुल किशोर के साथ मिलकर सिनेमा की भाषा एवं उसके नज़रिए की पड़ताल करेंगे.

द थर्ड आई की इस पहल के ज़रिए हमारी कोशिश है कि हिन्दी भाषा में फ़िल्मों एवं उनके द्वारा गढ़ी जा रही छवियों पर बात कर सकें. साथ ही यह पता लगा सकें कि हमारा सिनेमा तेज़ी से बदल रहे हमारे गांव और शहर को कैसे देख रहा है.

इस मास्टरक्लास के पहले एपिसोड का विषय है- छोटा शहर.

एपिसोड 1: छोटा शहर

‘फ़िल्मी शहर’ में सिनेमा के भीतर मौजूद वर्ग, जाति, जेंडर, यौनिकता और विभिन्न तरह की असमानताओं की परतें एक के बाद एक खुलती जाती हैं.

मास्टर क्लास के पहले एपिसोड में अविजित मुकुल किशोर हमारे सामने बॉलीवुड फ़िल्मों के भीतर दिखाई देने वाले छोटे शहर, महानगर और गांव के बीच में कहीं हिंसा, भ्रष्टाचार, यौनिकता के उग्र प्रदर्शन पर सवाल करते हैं. जिस तरह हमारी फ़िल्में बंदूक-गोली और मर्दानगी को पर्दे पर दिखाती हैं असल में हमारा शहर वैसा ही है क्या?

गांव फ़िल्मों में कई रूपों मे दिखाई देता है. क्या असल में हमारे गांव ऐसे ही हैं. अगर, नहीं, तो ये किसकी कल्पनाओं के गांव को हम सिनेमा में देखते हैं. क्या छोटे शहर पर आधारित ये फ़िल्में और इनके नायक सच में हमारे शहर का प्रतिबिम्ब खड़ा कर पा रहे हैं? इसमें क्या वास्तविक है और क्या निर्मित लगता है? अपनी मास्टर क्लास में अविजित मुकुल किशोर दर्शकों का ध्यान इस ओर आकर्षित करते हैं कि इन फ़िल्मों को कौन बना रहा है और वे किसे लाभ पहुंचा रही हैं? अविजित दर्शकों से सवाल करते हैं कि – छोटे शहरों और उनमें रहने वाले लोगों पर कौन सा विचार अंततः हमारे दिमाग और दिल में मान्य है?

द थर्ड आई की पाठ्य सामग्री तैयार करने वाले लोगों के समूह में शिक्षाविद, डॉक्यूमेंटरी फ़िल्मकार, कहानीकार जैसे पेशेवर लोग हैं. इन्हें कहानियां लिखने, मौखिक इतिहास जमा करने और ग्रामीण तथा कमज़ोर तबक़ों के लिए संदर्भगत सीखने−सिखाने के तरीकों को विकसित करने का व्यापक अनुभव है.
Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on email
Share on print

ये भी पढ़ें

Skip to content