अंक 005

अपराध

नारीवादी निगाह से

January 2024
अंक 005 : अपराध
जब हमने नारीवादी नज़रिए से अपराध को देखने के बारे मे सोचा तो पहला सवाल यही था कि आखिर इसका मतलब क्या है? अपराध से हम क्या समझते हैं? कौन है जो अपराधी कहलाते हैं? विशेष रूप से महिलाओं के खिलाफ ‘अपराध’ को उजागर करने, उसके उन्मूलन से जुड़े नए कानूनों के निर्माण और प्रभावी रूप से उसके लागू होने को लेकर नारीवादी संघर्ष बहुत लंबा है, ऐसे में उनकी नज़र में ‘अपराध’ का क्या मतलब होता है? क्या अपराध को देखने के नए तरीके भी हैं? और क्या कारावास ही आगे का रास्ता है?

नवीनतम पोस्ट

पूर्वी दिल्ली का इलाका खिचड़ीपुर, यहां छह नंबर की गली में रहने वाली नौ साल की एक लड़की किडनैप हो...
साल 2021 का ग्यारहवां महीना यानी नवंबर. इंदौर, मध्य प्रदेश का शहर. इंदौर में किसी मकान के एक कमरे में...
F-रेटेड इंटरव्यूह के चौथे एपिसोड में हमारे साथ हैं नेहा दीक्षित, जो एक स्वतंत्र पत्रकार हैं और दिल्ली में रहती...
अपराध संस्करण में हम हिंदी की मूल कहानियों के ज़रिए भी अवधारणाओं पर बात करने की कोशिश कर रहे हैं....
F - रेटेड इंटरव्यूह के तीसरे एपिसोड में मिलते हैं निधि सुरेश से जो हमें लखीमपुर और हाथरस ले जाती...
यह लेख सामाजिक कार्य (सोशल वर्क) के क्षेत्र में काम करने वाले उन पेशेवरों एवं छात्रों की बात करता है...
Skip to content